अभिनेता अमिताभ बच्चन के 45+ बेस्ट इंस्पायरिंग थॉट्स (Amitabh Bachchan Best Inspirational Thoughts)

Thought-1 “मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि मुझमें बहुत आत्मविश्वास है।”-अमिताभ बच्चन

“I don’t agree that I have a lot of confidence.”

Thought-2 “मेरा जन्म प्रसिद्धि में हुआ था। मुझे हमेशा पहचाना और जाना जाता था। निजी तौर पर, मैं इसके बारे में सामान्य महसूस करता हूं।”-अमिताभ बच्चन

“I was born in fame. I was always recognised and known. Personally, I feel normal about it.”

Thought-3 “हर कोई जीना चाहता है। लेकिन कभी-कभी शरीर बस हार मान लेता है।”-अमिताभ बच्चन

“Everybody wants to live. But sometimes the body just gives up.”

Thought-4 “मैं भावनात्मक स्तर पर राजनीति में गया और जल्द ही महसूस किया कि भावना का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है।”-अमिताभ बच्चन

“I went into politics on an emotional level and soon realised that emotion has nothing to do with politics.”

Thought-5 “मुझे कभी-कभी लगता है कि मेरा जन्म विवादों को आकर्षित करने के लिए हुआ है।”-अमिताभ बच्चन

“I sometimes feel that I have been born to attract controversy.”

Thought-6 “मैंने बोफोर्स की वजह से राजनीति से इस्तीफा नहीं दिया। मैंने इस्तीफा दिया क्योंकि मुझे नहीं पता कि मैं क्षुद्र राजनीति कैसे खेलूं। मैं तब भी नहीं जानता था और मैं अब भी नहीं जानता।”-अमिताभ बच्चन

“I did not resign from politics because of Bofors. I resigned because I do not know how to play petty politics. I did not know back then and I don’t know now either.”

Thought-7 “मैं सुबह उठता हूं, काम पर जाता हूं, घर आता हूं, परिवार के साथ रहता हूं, बस।”-अमिताभ बच्चन

“I get up in the morning, have a job to do, go there, come home, be with the family, that’s it.”

Thought-8 “मैं फिल्म में जो करता हूं वह मेरे पेशे का हिस्सा है।”-अमिताभ बच्चन

“What I do on film is part of my profession.”

Thought-9 ‘लोग क्या कहेंगें? प्रत्येक भारतीय लड़की इसी सोच के साथ बड़ी होती है।”-अमिताभ बच्चन

‘What will people say?’ is a feeling every Indian girl grows up with.

Thought-10 “क्योंकि आप महिलाएं हैं इसलिए लोग अपनी सोच और सीमाओं को आप पर थोपेंगे। वे आपको बताएंगे कि कैसे कपड़े पहनने हैं, कैसे व्यवहार करना है, आप किससे मिल सकते हैं और आप कहां जा सकते हैं। लोगों के फैसले की छाया में मत रहो। अपने ज्ञान के आलोक में अपनी पसंद खुद बनाओ।”-अमिताभ बच्चन

“Because you are women, people will force their thinking on you, their boundaries on you. They will tell you how to dress, how to behave, who you can meet and where you can go. Don’t live in the shadows of people’s judgement. Make your own choices in the light of your own wisdom.”

Thought-11 “कोई काम नहीं मिलना, भयानक होगा।”-अमिताभ बच्चन

“Having no work would be terrible.”
और भी पढ़ेडॉ. विवेक बिंद्रा के 65+ अनमोल सुविचार (65+ Best Inspirational Quotes of Dr. Vivek Bindra)

Thought-12 “दर्शकों का सामना करना भयावह है। इस बात का डर हमेशा रहता है कि वे आपके बारे में क्या सोचते हैं, वे आपके बारे में क्या कह रहे हैं।”-अमिताभ बच्चन

“It’s frightening to be facing an audience. There is always the fear of what they think of you, what they are saying about you.”

Thought-13 “मैं जो बीत गया उस पर ज्यादा समय व्यतीत नहीं करता कि क्या हुआ। मुझे यह याद है, लेकिन मुझे पीछे मुड़कर देखने का कोई उद्देश्य नजर नहीं आता।”-अमिताभ बच्चन

“I don’t spend much time looking back at what happened. I do remember it, but I don’t see any purpose of wanting to look back.”

Thought-14 “कोई भी व्यक्ति पूर्ण नहीं होता है…आलोचना हमेशा स्वागत के योग्य और अपेक्षित है।”-अमिताभ बच्चन

“No one is perfect, and criticism is always welcome and expected.”

Thought-15 “किसी को भी यह मत समझने दें कि आपकी स्कर्ट की लंबाई, आपके चरित्र का माप है।”-अमिताभ बच्चन

“Don’t let anyone make you believe the length of your skirt is a measure of your character.”

Thought-16 “मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि मैंने फिल्मी जगत में बहुत समय बिताया है और फिल्म निर्माताओं, अभिनेताओं और तकनीशियनों की कई पीढ़ियों से गुजरा हुं। लोगों को और चीजों को बदलते हुए देखना एक बहुत बड़ा अनुभव रहा है।”-अमिताभ बच्चन

“I’m very fortunate to have spent so much time in the industry and to have lived through several generations of filmmakers, actors and technicians. There’s a huge volume of experience seeing people change and seeing content change.”

Thought-17 “बार-बार एक ही चीज को देखकर लोग तंग आ जाते हैं। वे गुणात्मक परिवर्तन देखना चाहते हैं।”-अमिताभ बच्चन

People are fed up with seeing the same thing over and over. They want a qualitative change.

Thought-18 “मेरे पिता एक कवि थे। वह इस देश के साहित्यिक दिग्गज थे, वह हिंदी में लिखते थे और यह काफी अनूठा है क्योंकि उन्होंने पीएच.डी. अंग्रेजी साहित्य में की थी। उन्होंने हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाया, जो देश के सबसे प्रमुख विश्वविद्यालयों में से एक है।”-अमिताभ बच्चन

“My father is a poet. He’s a literary giant of this country – writes in Hindi – and also quite unique because he has a Ph.D. in English Literature. He taught at Harvard University, which is one of the most prominent universities in the country.”

Thought-19 “हम अपने करियर में बहुत सारी भावनाएं निभाते हैं, ऐसी भावनाएं जो वास्तविक जीवन में हम सिर्फ एक बार करते हैं।”-अमिताभ बच्चन

“We play many emotions in our careers, emotions that in real life we would perform just once.”

Thought-20 “भारत में बड़ी संख्या में लोग गरीबी रेखा से नीचे हैं; बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जो अल्प अस्तित्व का नेतृत्व करते हैं। वे जीवन की कठिनाइयों से थोड़ा बचना चाहते हैं और कुछ रंगीन और रोमांचक संगीत देखने आते हैं। भारतीय सिनेमा उन्हें यह सब दिखाता है।”-अमिताभ बच्चन

There are large numbers of people in India below the poverty line; there are large numbers of people who lead a meager existence. They want to find a little escape from the hardships of life and come and watch something colorful and exciting and musical. Indian cinema provides that.

Thought-21 “मुझे विश्वास है कि आने वाला कल मेरे लिए एक चुनौती होगी। परन्तु मुझे यकीन है कि मेरे लिए करने के लिए बहुत कुछ है, क्योंकि करने को अभी भी बहुत सारी चीज़ें बाकी हैं।”-अमिताभ बच्चन

“I’d like to believe that tomorrow is another challenge for me. I’m sure there is lots more for me to do, because there is lots and lots of stuff still to be explored.”

Thought-22 “मैं कैमरे के बजाय एक चेहरे से बात करूंगा।”-अमिताभ बच्चन

I would rather talk to a face than a camera.
और भी पढ़ेकड़वे प्रवचन : जैन मुनि तरुण सागर जी महाराज के 45 प्रवचन (Muni Tarun Sagar Ji ke Kadve Pravachan)

Thought-23 “हमारे जीवन में संगीत और नृत्य होना चाहिए; हमने भारत में सिनेमा की स्थापना के समय से ही ऐसा किया है। हमारी कहानियां बहुत सामाजिक-आधारित हैं, बहुत मानवीय-आधारित हैं। हम एक बहुत ही भावुक राष्ट्र हैं।”-अमिताभ बच्चन

“We must have song and dance in our lives; we’ve had it ever since the inception of cinema in India. Our stories are very social-based, very human-based. We are a very emotional nation.”

Thought-24 ‘नहीं’ अपने आप में संपूर्ण वाक्य है। नहीं मतलब नहीं और जब कोई इसे कहता है, तो आपको रूकने की आवश्यकता है।”-अमिताभ बच्चन

‘No’ is an entire sentence in itself. No means no, and when somebody says it, you need to stop.

Thought-25 “मैं आने वाले कल के बारे में असुरक्षित महसूस करता हूं। क्या मुझे दूसरा काम मिलेगा? क्या इसकी सराहना होगी? मैं तब तक अभिनय करूंगा जब तक मेरे पास एक चेहरा और शरीर है जो लोगों के लिए स्वीकार्य है, लेकिन मुझे अभी भी चिंता है कि अगर मैं कल बेहतर नहीं करता हूं, तो यह सब कुछ चला जाएगा।”-अमिताभ बच्चन

“I am insecure about tomorrow. Will I get another job? Will it be appreciated? I will pursue acting for as long as I have a face and body that is acceptable to the people, but I still worry that if I don’t do better tomorrow, it will all go away.”

Thought-26 “1960 के दशक में जब मैंने शुरुआत की थी, तब से अब तक एक बहुत बड़ा बदलाव आया है, लेकिन जो वास्तव में प्रभावशाली रहा है, वह यह है कि सेट पर काम करने वाली महिलाओं की संख्या बहुत बड़ी है। पहले कोई महिला नहीं हुआ करती थी।”-अमिताभ बच्चन

“It’s a huge change from when I started in the 1960s, but what is really impressive is that the number of ladies on set, the women working on set is a huge percentage. There used to be no women.”

Thought-27 “विदेशियों को भारत और इसकी संस्कृति की विविधता का कोई पता नहीं है। हमें उम्मीद है कि हम उन्हें इस विविधता की एक झलक दे पाएंगे।”-अमिताभ बच्चन

“Foreigners have no idea of the diversity of India and its culture. We hope to be able to give them a glimpse of that diversity.”

Thought-28 “कई चीजें हैं जो मुझे लगता है कि मुझे याद आती हैं।”-अमिताभ बच्चन

“There are many things that I feel I have missed out on.”

Thought-29 “मुझे जो भी खाली समय मिलता है, मुझे न्यूज और स्पोर्ट्स शो देखना अच्छा लगता है।”-अमिताभ बच्चन

“Whatever free time I get, I love to catch news and sports shows.”

Thought-30 “आपको अपने साथियों जैसे धर्मेंद्र और हेमा मालिनी से मिलने का समय नहीं मिलता है। पुरस्कार समारोह या अन्य कार्यक्रम केवल ऐसे स्थान हैं जहां आप उनसे मिल सकते हैं, जब तक कि कोई आपात स्थिति न हो। फिर हम सब एक साथ आते हैं।”-अमिताभ बच्चन

“You don’t get time to meet your peers such as Dharmendra and Hema Malini very often. Award functions or other events are the only places you meet them, unless there is an emergency. Then we all come together.”

Thought-31 “मुझे लगता है कि मैं रंगमंच पर बेहद उत्सुक रहा हूं, मंच पर आने पर, विभिन्न भूमिकाओं को लेते हुए, स्वरों, व्यक्तित्वों, लोगों, स्थितियों को लागू करते हुए, और मुझे लगता है कि यही दिलचस्पी है जिसने मुझे फिल्मों में काम करने के लिए प्रेरित किया है।”-अमिताभ बच्चन

“I guess I’ve been extremely keen on theatre, on getting on to the stage, taking on different roles, enacting vocations, personalities, people, situations, and I guess that’s the interest that has driven me to work in movies.”

Thought-32 “फिल्म उद्योग काफी बड़ा है और इसमें कई सफल स्टार हैं जो भारतीय सिनेमा को भारत से परे ले गए हैं। मुझे लगता है कि भारतीय सिनेमा को खुद को एक व्यक्ति से परे रखने की जरूरत है।”-अमिताभ बच्चन

“The film industry is large enough and has many successful icons that have taken Indian cinema to shores beyond India. I think that Indian cinema itself needs to be applauded beyond one individual.”

Thought-33 “मुझे वास्तव में ‘पिकू’ जैसी फिल्म में काम करने के बाद बहुत अच्छा लगा, क्योंकि कई लोग मेरे चरित्र से संबंधित हो सकते हैं। मुझे अपने प्रशंसकों से पत्र मिले, जिसमें बताया गया कि मेरा चरित्र उनके दादा-दादी से कैसे मिलता है।”-अमिताभ बच्चन

“I really felt good after working in a film like ‘Piku,’ as many people could relate to my character. I got letters from my fans telling me how my character resembles to their grandparents.”
और भी पढ़ेनरेंद्र मोदी के जिंदगी बदल देने वाले शक्तिशाली विचार (Life Changing Quotes by Narendra Modi

Thought-34 “व्यक्तिगत रूप से, जब कोई विवाद बढ़ता है, तो हम पहले निर्णय लेते हैं कि क्या इसे स्पष्टीकरण की आवश्यकता है और दूसरी बात, यदि यह अधिकारियों और प्रतिष्ठान से नोटिस प्राप्त करता है, तो हम उनके प्रश्नों के जवाब भी देते हैं।”-अमिताभ बच्चन

“Personally, when a controversy erupts, we decide first whether it requires clarification and, secondly, if it receives notice from authorities and the establishment, we submit responses to their queries.”

Thought-35 “मुझे नहीं पता कि लोग मेरे बारे में क्या सोचते हैं, लेकिन अगर मुझे रास्तों पर चलना है, तो मैं चलूंगा, और अगर मुझे हवाई अड्डे पर एक कतार में खड़े होने की जरूरत है, तो मैं खड़ा रहूंगा।”-अमिताभ बच्चन

“I don’t know how others think about me, but if I have to walk the streets, I will, and if I need to stand in a queue at the airport, that’s OK.”

Thought-36 “मेरे द्वारा काम पर रखें गए किसी भी व्यक्ति के लिए मेरे शुरुआती शब्द हैं, ‘मैं एक बहुत कमजोर व्यक्ति हूं।”-अमिताभ बच्चन

“My opening words to anybody I hire are, ‘I’m an extremely vulnerable person.”

Thought-37 “मैं कभी-कभी इस बात पर विलाप करता हूं कि मुझे पूर्ण और बीमारी मुक्त शरीर का लाभ नहीं मिला है।”-अमिताभ बच्चन

“I sometimes lament the fact that I do not have the benefit of a complete and ailment free body structure.”

Thought-38 “मैं कभी भी किसी भी स्तर पर अपने करियर को लेकर वास्तव में आश्वस्त नहीं था।”-अमिताभ बच्चन

“I have never really been confident about my career at any stage.”

Thought-39 “मैं कभी भी सुपरस्टार नहीं रहा और कभी भी इसमें विश्वास नहीं किया।”-अमिताभ बच्चन

“I have never been a superstar and never believed in it.”

Thought-40 “मुझे पता है कि मुझे कभी राजनीति में नहीं आना चाहिए था। और मैंने अपना सबक सीखा है। अब कोई राजनीति नहीं।”-अमिताभ बच्चन

“I know I should have never got into politics. And I’ve learned my lesson. No more politics.”

Thought-41 “मेरी मां बहुत ही संपन्न पृष्ठभूमि से रहीं हैं, बहुत पश्चिमी थीं, जबकि मेरे पिता बहुत अधिक पूर्वी थे। इसलिए मेरे पास पूर्व और पश्चिम का बहुत अच्छा मिश्रण है। मुझे लगता है कि यह मेरे करियर और मेरे काम करने के तरीके में बेहद मददगार रहा है।”-अमिताभ बच्चन

“My mother came from a very affluent background, very Westernized, while my father was more Eastern. So I’ve had a very good blend of the East and the West. I guess this has been extremely helpful in making my career and the way I function.”

Thought-42 “मैं निर्देशकों और फिल्म निर्माताओं के लिए बहुत आभारी हूं जो मुझे उनकी फिल्मों में लेते हैं, और मुझे उम्मीद है कि मैं उनकी फिल्मों के साथ न्याय करने में सक्षम हूं।”-अमिताभ बच्चन

“I’m very thankful to directors and filmmakers who consider me in their films, and I hope I’m able to do justice to their films.”

Thought-43 “मैं काम करते रहना चाहता हूं। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना जारी रखूंगा।”-अमिताभ बच्चन

“I want to keep working. I shall continue to do my best.”

Thought-44 “शरीर एक अद्भुत तंत्र है।”-अमिताभ बच्चन

“The body is an amazing system.”

Thought-45 “मैंने स्वीकार करता हूं कि मैं राजनीति में असफल था। मैं राजनीति के लिए योग्य नहीं था।”-अमिताभ बच्चन

I’ve accepted that I was a failure in politics. I was not qualified for the job.

Thought-46 “2012 के शुरुआती हिस्से में मेरी दो सर्जरी हुई थीं, और मुझे सलाह दी गई थी कि मैं अपने काम के बोझ को सीमित करूं।”-अमिताभ बच्चन

“I had two surgeries during the early part of 2012, and I was advised to restrict my work load.”

Thought-47 “मुझे कविताएँ पसंद हैं और मैं उन्हें ऑनलाइन शेयर करता रहता हूँ।”-अमिताभ बच्चन

“I like poems and keep sharing them online.”

Thought-48 “मैं किसी भी तकनीक का उपयोग नहीं करता; मैं एक अभिनेता होने के लिए प्रशिक्षित भी नहीं हूं। मुझे बस फिल्मों में काम करने में मजा आता है।”-अमिताभ बच्चन

I don’t use any techniques; I’m not trained to be an actor. I just enjoy working in films.

Related Articles-
1. धर्मगुरु दलाई लामा के 50+ आध्यात्मिक विचार (Spiritual Leader Dalai Lama Inspirational Quotes)
2. डॉ. उज्जवल पाटनी के 45 मोटिवेशनल विचार (45 motivational quotes by Dr. Ujjwal Patni)
3. लेस ब्राउन के 65+ महान विचारों का संग्रह (Thought Provoking Quotes of Motivational Leader Les Brown)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.