skip to Main Content
इसकी कीमत जाने बिना नहीं हो सकता कोई भी सफल?

इसकी कीमत जाने बिना नहीं हो सकता कोई भी सफल?

संसार में हर व्यक्ति सुखी जीवन जीना चाहता है, फिर जीवन में आलस्य क्यों? निश्चित समय पर सब काम करने से जीवन में नियमितता और अनुशासन आता है अन्यथा अंत में पश्चाताप करना पड़ता है कहा भी है- अब पछताए होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत।

फिर प्रतीक्षा किस बात की? आलस्य में समय मत गवाएं।

काल करे सो आज कर, आज करे सो अब। पल में प्रलय हो जाएगी बहुरि करेगा कब।।

जीवन को सफल बनाने के लिए समय ही सही कुंजी है।

बचपन अबोध अवस्था है। जवानी विलासिता में बीत जाती है। वृद्धावस्था बुढ़ापे की परेशानियों में बीत जाएगी, इसलिए समय रहते, अपने जीवन का उद्धार कर ले। समय की कीमत को पहचाने अन्यथा मैं-मैं करते रहेंगे और खाली हाथ चले जाएंगे। अपनी चाहतों को काबू करना सीखे। एक इच्छा यदि पूरी ना हो तो इच्छा ही रहती है और यदि पूरी हो जाए तो इच्छाएं बढ़ती रहती हैं।

जीवन भर हम कुछ ना कुछ पाने के लिए भागते रहते हैं। ना जीता हुआ जुआरी खेल छोड़ना चाहता है ना हारा हुआ। इस भागम भाग में जीवन का कालचक्र समाप्त हो जाता है। यह सिलसिला युगों-युगों से जन्म जन्मांतरों में अनवरत चलता रहता है इसलिए समय की कीमत को पहचाने।

संसार में सबसे अमूल्य चीज समय है। बीता हुआ समय कभी वापस नहीं आता। हर दिन हमारे लिए एक नया दिन होता है जो हमें आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। हमारे पास बुद्धि है। फिर क्यों ना हम समय का सही उपयोग करें?

प्रकृति के सब कार्य समय पर पूर्ण होते हैं जैसे कि समय पर फसलें खेतों में लहलहाती हैं। समय पर ऋतु परिवर्तन होता है। समय पर पेड़ों पर फल फूल खिलते हैं। फिर मानव क्यों अबोध बन कर रहे? मानव को यह अनमोल जन्म मिला है। शरीर नश्वर है, पता नहीं कब यह जीवन लीला समाप्त हो जाए, इसलिए समय रहते चेत जाएं।

समय पर ही भाग्य का बनना और बिगड़ना निर्भर करता है। समय की गति और स्वभाव को पहचान कर एक-एक क्षण का मूल्य समझना चाहिए। केवल 1 मिनट की देरी से गाड़ी छूट सकती है इसलिए समय को नियंत्रित कर ले और जीवन सुखी समृद्ध, सफल बना ले।

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back To Top